क्रोनिक माइग्रेन का निदान कैसे किया जाता है?